हर दिन की योजना पहले से बना लें

किसी प्रोजेक्ट की योजना बनाना / मान लें, आप कोई प्रोजेक्ट करने वाले हैं। शुरुआत सूची बनाने से करें। आपको प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए शुरू से अंत तक क्या करना होगा, इसके हर कदम की सूची बना लें। इन कदमों को प्राथमिकता और क्रम के आधार पर जमा लें। प्रोजेक्ट कागज़ या कंप्यूटर पर बनाएँ, ताकि आपको हर कदम और काम साफ़ दिखे। फिर एक बार में एक काम पर मेहनत करने में जुट जाएँ। इस तरीके से आप इतना ज्यादा काम कर लेंगे कि खुद हैरान रह जाएँगे।
सूचियाँ बनाकर काम करने से आप ज़्यादा असरदार और कार्यकुशल महसूस करेंगे। आपको अपने जीवन पर ज़्यादा नियंत्रण महसूस होगा। आप स्वाभाविक रूप से और ज्यादा काम करने के लिए प्रेरित होंगे। आप ज़्यादा रचनात्मकता से सोचेंगे और आपको बेहतर ज्ञान मिलेगा, जिसकी बदौलत आप और भी ज़्यादा तेज़ी से काम कर पाएंगे।
सूचियाँ बनाकर उनके हिसाब से निरंतर काम करने से आपको सकारात्मक प्रगति का एहसास होगा। इसकी बदौलत टालमटोल की बुरी आदत छूट जाएगी। प्रगति का यह एहसास आपको ज्यादा ऊर्जा देता है और दिन भर तरक्की की राह पर चलाता रहता
10/90 का नियम व्यक्तिगत प्रभाव का महत्वपूर्ण नियम है। यह नियम कहता है कि शुरू करने से पहले ही काम की योजना बनाने और व्यवस्थित करने में आप जो शुरुआती 10 प्रतिशत समय लगाते हैं, उससे बाद काम करते वक्त
आपका 90 प्रतिशत समय बचेगा।
चाहिए। इसमें मन में आने वाली हर व जिसे आप भविष्य में कभी करना चाहते है. जहाँ आप आने वाले हर नए विचार, काम को लिखते हैं। ज़ाहिर है, बाद में आप इन कामों भी करते हैं। हर वह चीज़ लिख लें हते हैं। यह वह जगह पर काम या ज़िम्मेदारी
कामों को व्यवस्थित किसी मान बनाने दूसरा, आपके पास एक मासिक सूची होनी चाहि महीने के अंत में आप अगले महीने की सूची बनाते आप अपनी मास्टर लिस्ट के काम शामिल कर होनी चाहिए।
समय-नियोजन का अनुशासन आपके लिए काफी अच्छा हो सकता है। कई लोगों ने मुझे बताया है, कि हर वीक में दो घंटे तक अगले सप्ताह की योजना बनाने से उनकी उत्पादकता बहुत बढ़ गई और उनकी जिंदगी पूरी तरह बदल गई। यह तकनीक आपको भी इतना ही फ़ायदा पहुंचाएगी। आपको अपनी दैनिक सूची तैयार करनी चाहिए। इसमें आप मासिक और साप्ताहिक सूचियों के काम शामिल करते हैं। ये वे ख़ास काम हैं, जिन्हें आपको अगले दिन करना है।
दिन में जैसे-जैसे काम निबटते जाएँ, उन्हें सूची से काटते जाएँ। कटे हुए काम देखने से आपको अपनी कर्मठता और उपलब्धि की साफ़ तस्वीर दिखती है। इससे सफलता और प्रगति की भावना पैदा होती है। सूची में काम निबटते देख आपको प्रेरणा और ऊर्जा मिलती है।